नगर निकाय के प्रथम चरण के चुनाव में व्यापक पैमाने पर हुई गड़बड़ियां उ0प्र0 चुनाव आयोग की मंशा पर प्रश्नचिन्ह- वीरेन्द्र चैधरी

    0
    38

     

    लखनऊ 05 मई 2023

    उ0प्र0 कांग्रेस के प्रान्तीय अध्यक्ष एवं विधायक श्री वीरेन्द्र चैधरी ने आज यहां प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में कहा कि जिस प्रकार मतदाता सूची में गड़बड़िया मिली हैं, बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। आजादी के 75 वर्ष बाद जबकि देश पूरी तरह डिजिटल हो चुका है ऐसे में वोटर लिस्ट से मतदाताओं के नाम गायब होना दुर्भाग्यपूर्ण है और उ0प्र0 चुनाव आयोग की स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव सम्पन्न कराने की मंशा पर प्रश्नचिन्ह लगाता है।
    उ0प्र0 कांग्रेस के प्रान्तीय अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री श्री नकुल दुबे ने कहा कि जिस प्रकार राजधानी लखनऊ में मतदान को लेकर गड़बड़ियां पायी गयीं, मतदाता सूची में नाम होने के बावजूद पर्ची न होने पर मतदाताओं को उनके मताधिकार से वंचित किया गया, भारी संख्या में लोगों के नाम वोटर लिस्ट से गायब मिला, स्थानीय प्रशासन से शिकायत करने पर मतदाता की शिकायत का समाधान करने के बजाए लोगों को चार से पांच घण्टे तक थाने पर बैठाया गया, यह सभी घटनाएं लोकतंत्र के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होने कहा कि लखनऊ में 7 लाख वोट बढ़ने के बावजूद मतदान में 2 प्रतिशत की गिरावट चिन्ताजनक है। उन्होने मांग की है कि लखनऊ सहित प्रथम चरण के अन्तर्गत हुए सम्पूर्ण नगर निकाय चुनाव की जांच मा0 उच्च न्यायालय के कार्यरत न्यायाधीश की अध्यक्षता में कराई जाए और दोषियों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाए।
    बख्शी का तालाब विधानसभा क्षेत्र से 2022 में कांग्रेस प्रत्याशी रहे श्री ललन कुमार ने प्रेसवार्ता में कहा कि 5 जनवरी 2023 को जो वोटर लिस्ट जारी हुई थी उसमें उनका नाम था किन्तु 1 अप्रैल को जो लिस्ट जारी हुई उसमें से उनका नाम और उनके निवास स्थान के सोसाइटी में रहने वाले लगभग 300लोगों का नाम मतदाता सूची से गायब कर दिया गया। इसकी शिकायत करने पर स्थानीय प्रशासन पूरी तरह हिटलरशाही रवैये पर अमादा था। इसी प्रकार लखनऊ मध्य से 2022 में विधानसभा की प्रत्याशी रहीं श्रीमती सदफ जाफर एवं लखनऊ पूर्व से कांग्रेस प्रत्याशी रहे व लखनऊ वि0वि0 छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी का भी नाम वोटर लिस्ट से गायब कर दिया गया। इतना ही नहीं स्वतंत्रता संग्राम सेनानी परिवार की श्रीमती मीनाक्षी कौल जो कि लगभग 40 वर्षों से अपने मताधिकार का प्रयोग कर रही थीं वोटर लिस्ट में नाम होने के बावजूद पर्ची न होने पर उन्हें मताधिकार के प्रयोग से वंचित कर दिया गया और इसकी शिकायत करने पर जिलाधिकारी लखनऊ जो कि निर्वाचन अधिकारी भी होते हैं उन्होने उनके सहित प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं प्रभारी प्रशासन श्री दिनेश सिंह एवं ओवरसीज कांग्रेस उ0प्र0 के चेयरमैन कै0 बंशीधर मिश्रा को गौतमपल्ली थाने पर लगभग 4 घण्टे तक पुलिस द्वारा डिटेन किया गया। इस घटना से श्रीमती मीनाक्षी कौल बहुत ही आहत और सदमें में हैं।
    श्री नकुल दुबे ने कहा कि इस सम्पूर्ण प्रकरण को लेकर उन्होने महामहिम राज्यपाल जी से कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल के कल दिनांक 6 मई को मुलाकात हेतु आज पत्र भेजकर समय मांगा है। प्रेसवार्ता में मीडिया संयोजक एवं प्रवक्ता श्री अशोक सिंह भी मौजूद रहे

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here